Atm किया है ? || meaning || एटीएम का फुल फॉर्म |आविष्कार | FULL NAME

(Akibab )
0

Atm kiya hai ? atm full form in hindi , atm card meaning ,fulname 2021-2022

तो फ्रेंड आज के इस आर्टिकल मैं आपको एटीएम की फुल इनफार्मेशन देने वाला हूं आपको ATM से रिलेटेड सारे Questions का Answer मिलेगा जैसे की ATM Ka Full Form In Hindi , ATM का पूरा नाम क्या है यह कैसे काम काम करता है ATM Card Meaning in hindi चलिए शुरू करते है।


ATM क्या है?

आज के दौर में बैंक में अकाउंट तो होता ही है और साथ ही में आप लोगों को एटीएम का सामना तो करना पड़ा होगा और आपने शायद एटीएम कार्ड से टेस्ट भी निकाला होगा और ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें एटीएम के बारे में कुछ पता नहीं एटीएम क्या है एटीएम का इस्तेमाल कैसे की जाता हैऔर ऐसे बहुत से लोग मिलेंगे आपको जिन्हें एटीएम की फुल फॉर्म तक नहीं पता और आप लोगों को पता है दुनिया का एटीएम कार्ड कब और कहां लगाया गया था सबसे पहले और इसका इतिहास क्या है तो मैं आपको बताऊंगा आज एटीएम कार्ड की फुल फॉर्म क्या होती है और यह कहां से आया कैसा लगा वह कैसे शुरुआत हुई थी और आपको यह भी बताएंगे कि पूरी इंडिया में कितने एटीएम कार्ड उपस्थित हैं

ATM का फुल फॉर्म ऑटोमेटेड टेलर मशीन है। एटीएम एक इलेक्ट्रो-मैकेनिकल मशीन है जिसका उपयोग बैंक खाते से पैसे के लेनदेन के लिए किया जाता है। इस मशीन का उपयोग personal बैंक खाते से पैसे निकालने के लिए किया जाता है।

यह बैंकिंग Process को बहुत आसान बनाता है क्योंकि यह मशीन automatic है। और इसके लिए किसी मनुष्य कैशियर की जरूरत नहीं है। एटीएम एक यूजर फ्रेंडली मशीन है।

एटीएम मशीन को दो प्रकारों में बांटा हुआ जा सकता है

  • एक ATM जिसने Normal Function होते है जिसमे आप सिर्फ मनी  निकाल सकते हो । 

  • और दूसरा जिसमे Advance Function होते है । इसमे आप मनी निकालने के साथ साथ मनी जमा भी कर सकते है ।



एटीएम का फुल फॉर्म क्या है- ATM KA FULL FORM KIYA HAI 


ATM KA FULL FORM .....Auromatic Teller Machine


ATM के Parts क्या है ?

  • ATM मे दो प्रकार के इक्विप्मन्ट होते है ।  जिससे यूजर को आसानी होगी इसका इस्तेमाल करने मे ।

ATM में दो तरह के Device होते हैं। जिससे यूजर को इसे इस्तेमाल करने में आसानी होगी।


  • Input Device 
  • Output Device

Input Device

Card  Reader 

यह इनपुट डिवाइस कार्ड के डेटा को पढ़ता है, जो कार्ड के पीछे एक चुंबकीय पट्टी होती है जिसमें डेटा संग्रहीत होता है। जब कार्ड को स्वाइप किया जाता है या कार्ड को एटीएम में दिए गए स्थान पर डाला जाता है, तो कार्ड रीडर खाते के विवरण को स्कैन करता है और सर्वर को भेजता है, और खाते के विवरण और उपयोगकर्ता के सर्वर से प्राप्त आदेशों के आधार पर, कैश डिस्पेंसर पैसे भेजता है। हटाने की अनुमति देता है।

Keypad

यह उपभोक्ता को मशीन द्वारा पूछे गए description (जैसे पिन, कितना पैसा निकालना है) provide करने में मदद करता है, इसके अलावा अन्य सुविधाओं जैसे कैंसल, क्लियर, एंटर आदि का इनपुट प्रदान करता है।

Output Device


Screen 

यह स्क्रीन पर लेनदेन से संबंधित जानकारी प्रदर्शित करता है। यह एक-एक करके पैसे निकालने के प्रत्येक चरण को दिखाता है। यह एक सीआरटी या एलसीडी स्क्रीन है। 

Speaker

अधिकांश एटीएम में स्पीकर होते हैं, यह एटीएम में चाबी दबाने पर ऑडियो फीडबैक देने के लिए दिया जाता है।

Cash Dispenser 

यह एटीएम का एक महत्वपूर्ण आउटपुट डिवाइस है क्योंकि यह उपयोगकर्ता द्वारा आवश्यकतानुसार सही मात्रा में नकदी निकालने की अनुमति देता है।

Receipt Printer  

यह आपको लेन-देन के विवरण, आपके लेन-देन की तारीख और समय, निकासी राशि, शेष राशि आदि के साथ एक रसीद प्रदान करता है।

ATM कैसे काम करता है?



बैंक authority ग्राहक को एटीएम कार्ड और पिन देता है ताकि ग्राहक कार्ड तक पहुंच सके। सबसे पहले आपको अपना एटीएम कार्ड एटीएम मशीन में डालना होगा। कुछ मशीनों में कार्ड डालना पड़ता है और कुछ मशीनों में कार्ड को स्वाइप करना होता है।

वह चुंबकीय पट्टी जो एटीएम मशीन के पिछले हिस्से पर बनी रहती है। इसके अंदर सारी जानकारी मौजूद है। इसके नीचे होलोग्राम दिखाई देता है और फिर आपको बैंक की संपर्क जानकारी दिखाई देती है, बीच में आपको सिग्नेचर एरिया भी देखने को मिलता है। और सुरक्षा कोड (CVV) उसके पास रहता है। और फिर नीचे की तरफ नेटवर्क का लोगो भी बना है। दोस्तों या तो एटीएम कार्ड के बारे में पूरी जानकारी, अब जब आप एटीएम मशीन के अंदर कार्ड डालते हैं, तो आपको पैसे कैसे मिलते हैं। तो चलिए इसके बारे में आगे जानते हैं।

Function Of ATM

  • पैसे निकालना 
  • पैसे जमा करना 
  • पैसे को ट्रैन्स्फर करना 
  • अकाउंट डिटेल्स चेक करना 
  • मिनी Statement निकालना 
  • अकाउंट बैलन्स डिटेल्स 
  • ATM पिन को चेंज करना 

एटीएम कार्ड की विशेषताएं

  • एटीएम कार्ड में काले रंग का मैग्रेटिक स्ट्रिप लगा होता हैं।

  • मैग्रेटिक स्ट्रिप में कार्ड से संबंधित समस्त जानकारी होती हैं।

  • मशीन में ATM Card डालने पर मशीन इसमें निहित सभी डेटा पढ़ लेती हैं और आगे की कार्यवाही पूरी करती हैं।

  • ATM मशीन को इलेक्ट्रॉनिक डेटा मशीन कहाँ जाता हैं।

  • ATM Card के अलावा चिप आधारित एटीएम भी मौजूद हैं।

  • चिप वाले ATM मैग्रेटिक स्ट्रिप वाले एटीएम कार्ड से अधिक सुरक्षित और महंगे होते हैं।


एटीएम के फायदे

  • जैसा कि हम सभी जानते हैं कि एटीएम आज के समय में लगभग सभी घरों में है, इसके फायदों के कारण जो इस प्रकार हैं:

  •  

  • एटीएम की मदद से आप कभी भी अपना पैसा निकाल सकते हैं।

  • एटीएम का उपयोग करके पैसे निकालने के लिए लंबी कतारों में खड़े होने की आवश्यकता नहीं है

  • एटीएम की मदद से सभी तरह के ऑनलाइन भुगतान भी आसान हो गए हैं।

  • एटीएम की मदद से एक बैंक खाते से दूसरे खाते में कभी भी पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है।

  • एटीएम कार्ड की मदद से बैंक खाते में भी आसानी से पैसा जमा किया जा सकता है।

  • अब आपको पैसे अपने साथ ले जाने की जरूरत नहीं है, जिससे चोरी या गिरने का डर लगभग खत्म हो गया है।

  • अगर आप धोखे से अपना एटीएम खो देते हैं, तो चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि इसका पिन सिर्फ आपके पास रहता है, आपके एटीएम से कोई भी पैसा नहीं निकाल सकता है।


ATM के नुकसान

  • हमें ATM की सुविधा फ्री में नहीं दी जाती है। जब आप ATM के जरिए कोई ट्रांजैक्शन करते हैं तो इसके लिए ATM आपसे चार्ज भी लेता है।

  • ATM से पैसे निकालने की कुछ लिमिट होती है, इससे ज्यादा पैसे हम नहीं निकाल सकते.

  • ATM की सुविधा शहरी हिस्से में ही ज्यादा है, हालांकि गांवों में ATM की संख्या बहुत कम है।

  • ATM से धोखाधड़ी की संभावना भी काफी बढ़ गई है, इसका कारण लोगों के साथ ATM पिन साझा करना है। इसलिए अपना ATM पिन किसी के साथ शेयर न करें।

  • अगर आप ATM का पिन नंबर भूल जाते हैं तो आप ATM का इस्तेमाल नहीं कर सकते।


एटीएम से पैसे कैसे निकाले?

आइए अब आपको बताते हैं कि एटीएम से पैसे कैसे निकाले। आज भी बहुत से लोग ऐसे हैं जो एटीएम से पैसे निकालना नहीं जानते हैं।

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि यहां बताए गए स्टेप्स की मदद से आपको एटीएम का इस्तेमाल कैसे करना है यह भी पता चल जाएगा और उसके बाद आप खुद एटीएम में जाकर पैसे निकाल पाएंगे।

 

  1. आप सबसे पहले अपने नज़दीकी एटीएम मशीन के पास चले जाएँ, वहां आपको एटीएम स्लॉट दिखाई देगा जिस में आपको अपना एटीएम कार्ड यानि डेबिट कार्ड या  क्रेडिट कार्ड डालना है.

  2. वैसे पहले एटीएम डालकर 1-2 सेकण्ड्स में निकाल लेना होता था लेकिन अब अकाउंट वेरिफिकेशन तक ही नहीं बल्कि मनी withdrawal तक एटीएम कार्ड स्लॉट के अंदर लेन देन की प्रक्रिया को सुरक्षा देने के लिए रखा जाता है.

  3. अब अगले स्टेप में आपको अपनी पसंद की भाषा चुनने का विकल्प दिया जायेगा. इस में आप Hindi, English और क्षेत्रीय भाषा मिलते हैं.

  4. जब आप अपनी भाषा चुन लेते हैं तो उसके बाद आपको अपने 4 डिजिट का Pin नंबर डालकर authenticate करना होता है. यहाँ पर आपको हमेशा कुछ बातों का ध्यान देना होता है की जब भी अपना पिन डालें तो किसी को दिखाकर ना डालें बल्कि छुपा कर डालें.

  5. आपका अकाउंट successfully authenticate हो जाने के बाद आपको transaction से  विकल्प दिए जायेंगे जो आगे दिए जा रहे हैं. Fast Cash, Cash Withrawal, Mini statement, Balance Enquiry.

  6. अगर आपको अपने अकाउंट का बैलेंस चेक करना है तो आप balance Enquiry के ऑप्शन का बटन प्रेस कर के देख सकते हैं. आपके अकाउंट में कब कब और कितना ट्रांसैक्शन हुआ है वो आप Mini statement के बटन को प्रेस करने के बाद प्रिंट निकाल सकते हैं.

  7. Fast Cash और Withdrawal दोनों से ही आप पैसे निकाल सकते हैं लेकिन Fast Cash में amount पहले से लिखा होता है जबकि Withdrawal से आप अपनी मर्ज़ी का अमाउंट डाल कर निकाल सकते हैं.

  8. जब आप Cash withdrawal का ऑप्शन चुनते हैं और आगे बढ़ते हैं तो आपको Saving account और Current account दो ऑप्शन दिखाई देंगे जिसका चुनाव आपको अपने अकाउंट के अनुसार कर लेना है.

  9. अगर आपका अकाउंट सेविंग है तो saving account चुने और अगर आपका अकाउंट current है तो current account चुन लें.

  10. इसके बाद Amount भरने का ऑप्शन मिलेगा जिसमे आप जितने पैसे निकालना चाहते हैं उतनी राशि वहां अंकों में वहां पर मौजूद कीबोर्ड की मदद से डाल लें.

  11. ये ख्याल रखें की एटीएम में कभी भी हमेशा 100 के गुणक में अमाउंट निकाल सकते हैं. जैसे 100, 200, 300, 500, 2000. इस में कभी भी इस तरह की राशि नहीं निकलेगी जैसे 150,550, 1250 इत्यादि.

  12. अब यहाँ अगले स्टेप में आपसे ये पूछेगा की क्या आप इतना अमाउंट  हैं तो इस confirm करें। Yes or No

  13.  अगले स्टेप में ये आपसे पूछेगा की क्या आप अपने अकाउंट से होने वाले transaction का प्रिंट लेना चाहते हैं. अगर हाँ तो Yes पर प्रेस, और ना तो NO पर क्लिक करें.

  14. जब आपके अकाउंट का ट्रांसैक्शन  सही होगा तो निचे में एक बॉक्स से आपका पैसा बाहर आएगा लेकिन इसके पहले ये पैसे काउंटिंग करता है और फिर कुछ seconds में पैसे बाहर निकल आता है.

  15. अब आपका प्रिंट भी बाहर आएगा जिसके बाद आपको कुछ नहीं करना है बस अपनी अकाउंट की सुरक्षा के लिए cancel बटन जरूर प्रेस करें.

एटीएम से पैसे कैसे निकाले?

Conclusion

इस पोस्ट  मे मैंने आप लोगो को  ATM क्या है और इससे संभन्धित सभी सवाल जैसे की ATM का Full Form , ATM कैसे काम करते है ? , ATM के Devices , ATM के नुकसान , First ATM Machine In India , ATM से पैसे कैसे निकाले , ATM के फायदे के जवाब देने की कोशिश की है । मे उम्मीद  करता हु की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा । यदि आपको ATM पर कोई सवाल हो तो आप हमे Comment मे जरूर पुछे सकते है ।
Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)